MC Full Form or Meaning Kya Hai?

MC Full Form: दोस्तों बहुत सी ऐसी Natural Actions होती है जो हम सभी इंसानो के साथ होता रहता है। ऐसी ही एक Natural क्रिया MC ( Period ) है जो सभी लड़कीओ एवं महिलाओ के साथ हर महीने होते रहता है। MC का समय समय पर आना महिलाओ एवं लड़किओं के लिए बहुत ही जरुरी होता है। क्योकि अगर यह समय पर नहीं आये तो बहुत सारी दिक्कत होने का सम्भावना हो सकता है।

जो महिला या लड़की पूरी तरह से स्वस्थ रहती है उसका समय समय पर MC आता रहता है। अगर आपका MC (Periods ) आने में समस्या होती है तो आप डाक्टर से जरूर दिखाए। आज मै आप लोगो को MC का Full Form क्या है? MC क्या है ? MC Meaning In Hindi , MC (Period ) से जुडी सभी जानकारी के बारे में बताऊंगा। यह बहुत ही महत्वपूर्ण Topic है। यह लड़कीओ एवं महिलाओ के लिए जितना जरुरी है। उतना ही लड़को एवं पुरषो के लिए भी इसके बारे में जानना जरुरी है। इसलिए आप इस पोस्ट को ध्यान से पढ़े।

MC Meaning In Hindi

MC Full Form “Menstrual Cycle ” होता है। जिसका हिंदी अर्थ मासिक चक्र होता है। इसे और भी बहुत से नामो से जाना जाता है। जैसे – माहवारी ,Period ,मासिक धर्म इत्यादि।

MC Full Form 

M – Menstrual

C – Cycle

MC Full Form In Hindi

MC का फुल फॉर्म हिंदी में मासिक चक्र होता है।

M – मासिक

C – चक्र

MC (Menstrual Cycle ) की पूरी जानकारी हिंदी में

MC (Menstrual Cycle) आमतौर पर 10 वर्ष से लेकर 15 वर्ष के सभी लड़कीओ का उनका पहला Period आना शुरू हो जाता है। MC (Menstrual Cycle) लड़कीओ के लिए बहुत जरुरी होता है। अगर महिलाओ में मासिक धर्म ना आये तो प्रजनन भी संभव नहीं हो पायेगा। इसलिए लड़कीओ का Period आना बहुत जरुरी होता है। ज्यादातर लड़कीओ में उनके स्तनो का विकास शुरू होने के लगभग दो साल बाद उसका Period आना शुरू हो जाता है।

यदि MC (Menstrual Cycle) की बात की जाये तो यह 28 दिन का होता है। लेकिन मान लीजिये किसी महीने में 31 दिन है। और आपका Period पहली तारीख को आया है तो उसी महीने में 29 तारीख को आपका Period आने की संभावना हो सकता है। Period आने का कोई Fixed समय नहीं है की 28 दिन पर ही आएगा। यह समय घट और बढ़ भी सकता है। अगर आपका Period आने में दो या चार दिन आगे -पीछे भी होता है तो उसे Delay नहीं माना जायेगा। उसको Regular Period ही कहा जायेगा।

Period आने का एक औसतन आयु 12 वर्ष से लेकर 45 वर्ष तक के बिच 450 बार होता है। इस हिसाब से सभी महिलाओ के उनके पुरे जीवन काल में 450 बार Period आता है। महिलाओ में Period 45 साल पर Menopause में प्रवेश हो जाती है। उसके बाद Obridge से Egg Release होना बंद हो जाता है। जिसके चलते MC (Menstrual Cycle) का भी आना बंद हो जाता है।

MC (Menstrual Cycle ) के Phase

दोस्तों MC (Menstrual Cycle ) के मुख्यतः 3 Phase होते है। इन सभी Phase के बारे में हम निचे बिस्तार से जानेंगे।

  • Bleding Luteal Phase (रक्त स्राव का चरण ) – इस Phase में Bleding होता है। और यह Bleeding एक से सात दिनों तक होता रहता है। लगभग दो से तीन दिन तक रक्त का स्राव ज़्यदा होता है। और उसके बाद धीरे -धीरे कम हो जाता है।
  • Ovulation Phase – इस Phase में Egg Release होता है। Egg MC (Menstrual Cycle ) के 14वे दिन Release होता है। यदि आपका Period एक तारीख को आया है तो आपका Egg 14 तारीख को Release होगा। हो सकता है की कभी कभी इसमें कम या अधिक भी समय लग जाये पर Egg Release होने का Minimum समय 14 दिन का होता है।
  • Secretory Phase – इसमें Egg Release होने के बाद में Obridge का समय लगता है। जिसे Proliferative कहते है। यह दुबारा Egg बनाने के लिए होता है और इसे Proliferative भी कहा जाता है।

Period MC के लक्षण –

  • पेट दर्द
  • मांसपेशी में दर्द
  • जोड़ो में दर्द
  • सर में दर्द
  • जी मिचलाना
  • उलटी और दस्त का होना।
  • चिंता ,डिप्रेशन

MC (Menstrual Cycle ) के आने के पहले मुख्यतःसभी Female में यह लक्षण पाए जाते है। ये सभी लक्षण Hormones में बदलाव के कारण आते है।

MC (Menstrual Cycle ) क्या है?

MC (Menstrual Cycle ) सभी Female में होने वाली एक Natural क्रिया है। यह क्रिया लगभग 10 से 15 वर्ष में शुरू हो जाती है। यह सभी Female के साथ होता है। MC (Menstrual Cycle ) का चक्र 28 दिनों का होता है। यह हर महीने होता है। मासिक धर्म के दौरान Bleding होता है। और यह Bleding Endometrium Layer के टूटने के कारण होती है। MC आने के पहले दिन से 3 दिन तक रक्त का स्राव ज्यादा होता है। फिर कम हो जाता है।

मासिक धर्म के दौरान महिलाओ में 10 -80 मिली लीटर रक्त श्राव का अनुभव होता है। दो से सात दिनों के दौरान औसत मात्रा की बात किया जाये तो 35 मिली लीटर हो सकता है। अगर इस मात्रा में आपका Bload आता है तो सही है अन्यथा आप एक बार डॉक्टर से मिल ले।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top